Category Archives: Uncategorized

हम जहाँ हैं, वहीं से, आगे बढेंगे

माना नहीं नया साल आ ही गया। अब जब आ ही गया तो उसका स्वागत भी कर ही लिया जाये। आप सभी को नया साल मुबारक। आप सबने नये साल के कुछ न कुछ संकल्प लिये ही होंगे। शुभकामनायें इस … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

आज हम एक उतावले समय में जी रहे हैं

आज 25 दिसंबर है। क्रिसमस का त्योहार मनाया जा रहा है दुनिया भर में। पूरा यूरोप कुड़कुड़ा रहा है मारे बर्फ़ानी माहौल के। जिधर देखो उधर बर्फ़ नजर आ रही है। सड़क पर बर्फ़, छतों पर बर्फ़, गाड़ियों पर बर्फ़, … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

लड़कियाँ, अपने आप में एक मुक्कमिल जहाँ होती हैं

कई दिनों से ब्लॉग पढ़ना कम हो गया। लिखना तो औरौ कम। आज भी यही हुआ। एकाध पोस्टें बांची और लोटपोट तहाकर धरने वाले थे कि किसी पोस्ट में अपनी लक्ष्मीबाई कंचन की पोस्ट दिख गई! कल किसी ने इसकी … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

….इस देश में देशभक्ति बड़ी सस्ती चीज़ है

कल की चर्चा में नीरज बसलियाल की टिप्पणी थी- हम टिप्पणी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले गरीब ब्लोगरों को कितना राशन मिलेगा| टिप्पणी देखते ही लगा कि कुछ खास ग्राहक है। गये ब्लॉग तो देखा नाम है कांव-कांव। … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

चिट्ठाचर्चा को राशन की दुकान मत बनाइये

ब्लॉगिंग करने को फ़िर मन आया कई दिनों के बादपोस्टों पर बेमतलब टिपियाया कई दिनों के बादभाईचारे का भभ्भड़ देखा फ़िर कई दिनों के बादटिप्पणियों से खिल गयीं बांछे फ़िर कई दिनों के बाद। यहां-वहां लड़-भिड़कर आया वो कई दिनों … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

हसरतसंज -मासूम मोहब्बत के कुछ प्यारे किस्से

मैं फिजिक्स का विद्यार्थी हूँ और होम साइंस की किताब चुपके से पढ़ रहा हूँ । पढने के बाद अंगडाई लेता हूँ जैसे हवाई जहाज कैसे बनता है, जान लिया हो । बाहर देहरी पर दस्तक हुई है, चुपके से … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

पुराने डायरी का पन्ना डायरी से निकलकर नेट पर पहुंचा। कांधे से तिल बरामद!

  1.पर्यटन क्या है? : खबरदार जो किसी ने बताया कि सूटकेस भर कर घर लौटना पर्यटन है। 2.फ़ुरसत में… भ्रष्‍टाचार पर बतिया ही लूँ !: अरे बतियाते रहेंगे कि कुछ अंजाम भी देंगे। 3.……….क्या चीज है यह जिंदगी ?: … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे