Category Archives: २४/१२/०८

बिंदी के तो हिलने का इंतजार और बोरियत

सुबह-सबेरे जब चर्चा के वास्ते बैठे तो सबसे पहले जो पोस्ट दिखी उसमें कुछ ऊब-चूभ की बातें की गयीं थीं। वर्तमान पीढ़ी और ऊब में ज्ञानी लेखक ने ये बताया ही नहीं कि वर्तमान पीढ़ी में किस उमर तक के … पढना जारी रखे

अनूप शुक्ल, २४/१२/०८ में प्रकाशित किया गया | 22 टिप्पणियाँ