Category Archives: रविवार

बरखा प्रभाव – स्ट्राइसेंड प्रभाव को देसी नाम मिला

यह चर्चा आलोक कुमार ने मुझे डाक से भेज आदेश दिया की एक फरवरी को छापा जाए, वजह उन का “चौडाबाजा” (ब्राडबैंड) बज नहीं रहा। कोई भूल चूक लेनी देनी हो तो उन को बताया जाए, अपना काम खत्म। विपुल … पढना जारी रखे

आलोक, चर्चा, रविवार में प्रकाशित किया गया | 15 टिप्पणियाँ

हल्की शीत की उत्तरभारतीय सिहरन के बीच : अपनी आग में निरंतर दहक रहा देश

रविवार की इस नौ नवंबरी प्रभात की वेला में हल्की शीत की उत्तरभारतीय सिहरन के बीच घरों के दुशाले, कम्बल, शाल, निकालते-ओढ़ते-पहनते भारतवासियों का देश अपनी आग में निरंतर दहक रहा है; जबकि पूरे देश को एक करने वाली शीत … पढना जारी रखे

चिट्ठाचर्चा, रविवार, रविवार्ता, हिन्दी चिट्ठाचर्चा, chithacharcha, hindiblogs, Kavita Vachaknavee में प्रकाशित किया गया | 13 टिप्पणियाँ

महिला चिट्ठाचर्चाकार की शुरुआती पारी

लीजिए इस महिला चिट्ठाचर्चाकार की मेडन पोस्‍ट हाजिर है। आज आप सबों की चर्चा करने का सौभाग्‍य मुझे प्राप्‍त होने का समाचार मेरी रसोई के बेलन चकले, कड़ाही, साग सब्जियों, बच्‍चों, कामवाली बाई, कॉलेज की पुस्‍तकों और पतिश्री को मिला … पढना जारी रखे

चिट्ठाचर्चा, नीलिमा, रविवार, neelima में प्रकाशित किया गया | 13 टिप्पणियाँ