Category Archives: अभय तिवारी

क्योंकि नगर वधुएं अख़बार नहीं पढ़तीं

अभी तक माना ये जाता रहा है कि इन्टरनेट पत्रकारिता को रिडिफ़ाइन कर रहा है। दैनिक अख़बार की ख़बर पहुँचाने की परम्परागत भूमिका को टीवी चैनल पहले ही छीन चुके हैं। अपनी बात कहने के लिए अब कोई किसी अख़बार … पढना जारी रखे

अभय तिवारी में प्रकाशित किया गया | 22 टिप्पणियाँ

सिगरेट पीती हुई लड़कियाँ

अनूप भाई ने बहुत पहले मुझे चिट्ठा चर्चा का आमंत्रण भेजा था.. मैंने सहर्ष स्वीकार कर लिया था क्योंकि यह एक सार्थक मंच है। रोज़ छपने वालों दिलचस्प चिट्ठों की चर्चा की एक परम्परा को अनूप भाई तथा अन्य साथी … पढना जारी रखे

अभय तिवारी में प्रकाशित किया गया | 8 टिप्पणियाँ