Monthly Archives: अगस्त 2010

चर्चा ब्लॉगों की – बरास्ते पंजाब स्क्रीन

रेक्टर कथूरिया (पंजाब स्क्रीन पर ब्लॉग से नामक विषय पर रेक्टर कथूरिया द्वारा बढ़िया ब्लॉग चर्चाएँ हुई हैं. आज की चिट्ठा चर्चा साभार पंजाब स्क्रीन) चर्चा ब्लागों की डाक्टर हरदीप कौर संधू ब्लॉग की दुनिया सुंदर भी हो रही, विशाल … पढना जारी रखे

रविरतलामी में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

एक बच्चा कम और दो पेड़ ज्यादा

मेरी नज़र कुछ दिनों पहले एक खबर में गयी थी जिसमे गुलाम नबी आज़ाद ने देश की जनसँख्या बढ़ने पर चिंता जतायी थी लेकिन उनका मानना था कि बात अभी आपातकाल तक नही पहुँची। नेताओं के और जनता के किसी … पढना जारी रखे

Tarun में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

तेरे पास ये जो ज़मीर है यही तेरी दौलते ख़ास है- इस्मत जैदी

इस्मत जैदी’शेफ़ा’ ने अपने परिचय में लिखा है- तेरे पास ये जो ज़मीर है यही तेरी दौलते ख़ास है तू बचा के रखना इसे ’शेफ़ा’ यही ज़िंदगी का दवाम है दवाम का मतलब मुझे ठीक-ठीक नहीं मालूम लेकिन इससे इस … पढना जारी रखे

अनूप शुक्ल में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

स्कॉलरशिप भारत रत्न से कम नहीं होती!

डा.अनुराग की पोस्ट छिनाल माने ?? में विभूति नारायण राय जी के बयान पर पाठकों की प्रतिक्रियाओं के बाद ब्लॉग जगत में कई पोस्टें आयीं। लोगों ने इस सस्ती सोच के खिलाफ़ बातें कहीं। कल विभूति नारायण राय ने अपने … पढना जारी रखे

अनूप शुक्ल में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

छिनाल माने ??

इस देश का सबसे तेज  चैनल ब्रेकिंग न्यूज़ बार बार फ्लेश कर रहा  है .के राहुल  महाज़न    ओर डिम्पी फलां मंदिर में देखे गए….सुबह हिन्दुतान टाइम्स  में देखा हुआ चित्र याद करता हूँ जिसमे कश्मीर में एक औरत को … पढना जारी रखे

डा. अनुराग में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

सोमवार ०२.०८.२०१० की चर्चा

नमस्कार मित्रों! आज यानी एक अगस्त को “हैप्पी फ़्रेंड्शिप डे!” कहने का दिन है। दोस्तों का दिन! दोस्ती जताने का दिन। एक तो जीवन में सच्चा दोस्त मिलता नहीं, और अगर मिल भी जाए तो उसको “हप्पी” कहने के लिए … पढना जारी रखे

मनोज कुमार में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

हिंदी सबके लिए

लीजिए, आज आपके लिए पेश है हिंदी संबंधी ढेरों कड़ियाँ. साभार हिंदी सबके लिए. बहुत सी नई कड़ियाँ भी हैं. उम्मीद है,  आपके लिए कोई न कोई कड़ी काम की होगी ही – · प्रबोध, प्रवीण, प्राज्ञ ऑनलाइन परीक्षाओं की … पढना जारी रखे

रविरतलामी में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे