Monthly Archives: अक्टूबर 2007

वाशिंगटन में कवि सम्मेलन

चिट्ठों की चर्चा तो अक्सर करता हूँ पर आज नहीं हैआज सूचना भर देनी है सब मित्रों औ’ सुधी जनों कोइस महिने की सत्ताईस को कवि सम्मेलन का आयोजनशिल्पित करने को कवियों की आंखों में बुनते सपनों को आयेंगे अनूप, … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | 4 टिप्पणियाँ

कोई शिकायत ???

न समीर ने करी शिकायत, न ही शानू ने कुछ बोलाऔर रहे काकेश मौन हो व्यस्त स्वयं की मधुशाला मेंकोई शिकवा नहीं किसी का चर्चा से क्यों दूर हुए हमउलझे रहे च्यस्तताओं की पल पल पर ढलती हाला में घुघुत्र्र … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | 6 टिप्पणियाँ