Monthly Archives: सितम्बर 2007

चिट्ठाचर्चा : शहादत विशेष

शहीद की जन्म शताब्दी का वर्ष है. भगतसिंह का जन्म 28 सितम्बर 1907 को हुआ था, इसी उपलक्ष में चिट्ठाकार भला उन्हे अपने अपने शब्दों मे श्रद्धाँजलि देने से कैसे चुकते? बानगी देखिये. महाशक्ति ने लिखा है: बड़ी खुशनसीब होगी … पढना जारी रखे

bhagat singh, chitthacharcha, sanjay bengani में प्रकाशित किया गया | 3 टिप्पणियाँ

अच्छा ही तो लिख पाते हैं

पूरे तीन पॄष्ठ पढ़ डाले किस किस की चर्चा करनी हैसुनें रेडियो पर कवितायें, कितना अच्छा लिखा आपनेहुए अगर मिसयूज करें क्या, ये सुबीर जी बतलायेंगेलौकी के जो बने परांठे, कितने खाये कहिओ आपने जो न कह सके वह करते … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | 6 टिप्पणियाँ

कौन कर रहा मटरगश्तियां

फ़ुरसतियाजी कहां कर रहे मटरर्गश्तियां हमें पता हैसंस्मरण में रवि रतलामी ने देखो क्या आज कहा हैइंतज़ार में खड़े सारथी कोई कहीं धनुर्धर होगाबता रहे आलोक पुराणिक सेंसेक्स का क्या क्या होगा करें बिहारी बाबू आकर राम सेतु का लेखा … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | 2 टिप्पणियाँ

नये हिंदी ब्लाग में एग्रीगेटर

कादम्बिनी के नये अंक में यह लेख गौरी पालीवालजी का लिखा है। इसे हमें नीरज दीवान ने उपलब्ध कराया। साभार इसको आपकी जानकारी के प्रकाशित कर रहे हैं।

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | 6 टिप्पणियाँ