जूते की सुनो वो तुम्हारी सुनेगा

आज गीत सम्राट राकेश भाई की पारी थी, मगर उनके कंप्यूटर की हार्ड डिस्क बोल गई और वो हमें कविता में चर्चा लगे सुनाने फोन पर कि आप लिखते जाईये. हम कहे, सुन लिये हैं..और जैसा समझ में और याद आयेगा, कर देंगे, आप निश्चिंत रहें. हम दोस्ती बहुत अच्छी निभाते हैं. फुरसतिया जी हमसे कुछ नहीं कहे कि आप चर्चा करें जबकि उन्हें भी मालूम था कि राकेश भाई के साथ समस्या है. शायद हमारी जूता पुराण से डर गये..तो लें राकेश भाई की चर्चा के बदले कविता में ही चर्चा:

अप्रेल फूल का खेल, अब खत्म हो ही है चला
केतु बन के शक कहीं, आज तक भी है पला
इस देश में रहना है तो बेटा पैदा करना होगा
हर मुसलमां आतंकवादी, यह कौन सी है बला.

प्रत्यक्षा की रसोई और कालिखजीवी की कुरुपता
सोमवार आज काला होगा, ये पहले से उन्हें पता
राजनीतिक संन्यासी पर व्यंग्य में वो कहते रहे
सिक्कों में संप्रदायिकता, किसकी मानें यह खता.

यमराज का इस्तीफा या नारद का हो इतिहास
विद्रोही जी की एक कविता, बनी हुई है खास
मुंबई ब्लॉग ने जारी की है ब्लॉगबस्टर की रेंक
माँ के आँचल का पसरा, वही अजब अहसास.

चरसी युवा न जाने क्यूँ, अपना धीरज खोते जाते
अमित देख खजुराहो-ओरछा, फोटो सबको दिखलाते
तुझे तोड़ देगा यही मौन तेरा, पीर भी गाती नहीं,
कौन सा मौसम लगा है? दर्द सगे से होते जाते

कोई झामपटाखा खबर नहीं है, होमोनिम्स का पता नहीं है
अजदक की सोच अलग, औ’ मुलायम मेरा ताकिया नहीं है
हिन्दी में नहीं रहा और फिर गंगा के बचने की बात कैसी
क्या आपको मालूम चला कि कत्ल करना गुनाह नहीं है.

बदली दुनिया दस मिनट में, गुगल एप्स एक अच्छा सौदा,
आप कितने किलो की हैं, यही तो है आज का बना मसौदा
जानो राजनीति में मूल्य और जनसंचार माध्यमों की दंतकथा
मुलायम मेरी पाठशाला, या कि अजदक के ठीकठाक का हौदा.

आज की चर्चा पर, अब लगा लेते है एक छोटा सा विराम,
डेनियल और मैक कंप्यूटर के संग, तब तक करें आराम.

About bhaikush

attractive,having a good smile
यह प्रविष्टि उड़न तश्तरी, चिट्ठाचर्चा, समीर लाल, chithha charcha में पोस्ट की गई थी। बुकमार्क करें पर्मालिंक

3 Responses to जूते की सुनो वो तुम्हारी सुनेगा

  1. Aflatoon कहते हैं:

    कृपया इस प्रविष्टी की कड़ी को सुधार लें – जनसंचार माध्यमों की दंतकथा ।सही कड़ी यह है

  2. वाह वाह क्या खूब लिखी है चर्चा सारे चिट्ठों कीशायद मेरा कम्प्यूटर भी न कुछ ऐसे लिख पातागीतकार से कहा, लिखेगा वो पूरा पूरा विवरणक्रैश हुआ कैसे कम्प्यूटर, कौन रहा कविता गाता

  3. अनूप शुक्ला कहते हैं:

    बढ़िया है। इत्ती जल्दी लिख लिये! कमाल है!

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s